नमस्कार दोस्तों आज हम अपनी इस पोस्ट में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की जानकारी लेकर आए हैं. हम आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार किसान सम्मान निधि योजना 2019 का लाभ उठा सकते हैं| भारत की केंद्र सरकार ने अपने अंतिम बजट में मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजन शुरुआत की है| किसान सम्मान निधि योजना सरकार ने 2022 तक किसानों की आय दुगनी करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत की है।

दोस्तों जैसा कि आप को पता है भारत एक कृषि प्रधान देश है. भारत में बहुत बड़े पैमाने पर लोगों कृषि करते हैं और कृषि पर निर्भर रहते हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने किसानों के हित के लिए किसान सम्मान निधि योजना शुरुआत की है| पीएम किसान सम्मान निधि योजना का फायदा देश के 12 करोड़ किसानों को मिल रहा है और आगे भी मिलेगा।

जरुरी जानकारी – सरकार किसानों के लिए शुरू की गई प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को तेजी से लागू करने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू कर दिए है अब आप खुद ही इसके लिए आवेदन कर सकते है।

क्या प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना – प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में किसानों को हर साल 6,000 रुपये की सहायता मिलेगी जो ऑनलाइन सिस्टम के जरिये किसानों के बैंक खाते में प्रदान की जाएगी। यह राशि उन्हें 2,000-2,000 रुपये की तीन किस्तों में दी जाएगी। हर तीसरे महीने की पहली तारिक को क़िस्त किसानो के खातो में पहुचेगी.

इस योजन से होने वाले सभी लाभ –

1. किसानों के खाते में 3 किस्तों में पैसे मिलेंगे।
2. इसका फायदा देश के 12 करोड़ किसानों को मिलेगा।
3. किसान निधि के लिए 75,000 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है।
4. 2022 तक किसानों की आय दुगनी करने के लक्ष्य है।

इस योजना के लिए कौन कौन पात्र है –

1. प्रधानमंत्री किसान योजना में ऐसे व्यक्तियों और परिवारों को शामिल किया गया है जिनमें पति-पत्नी और 18 वर्ष तक की उम्र के नाबालिग बच्चे हों और ये सभी सामूहिक रूप से दो हेक्टेयर यानी 5 एकड़ तक की जमीन पर खेती करते हो.
2. किसान सम्मान निधि योजना अप्लाई के अंतर्गत देश के सभी लघु और सीमांत किसानो को प्रतिवर्ष 6 हजार रूपये की वित्तीय सहायता.
3. केवल वह किसान ही इस सरकारी किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठा सकते है जिनके पास 2 हेक्टयर या उससे कम की भूमि है.
4. ऐसे सभी सेवानिवृत्त कर्मचारी या पेंशनभोगी जिनकी मासिक पेंशन 10,000 रुपए या उससे अधिक है, को भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा.

इसके लिए ज़रूरी कागज –

1. डेटाबेस में जमीन मालिक का नाम
2. सामाजिक वर्गीकरण, अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति,
3. आधार नंबर,बैंक अकाउंट नंबर और मोबाइल नंबर आदि शामिल होंगे.
4. इस योजन के लिए ये सभी कागज आपके पास होंने ज़रूरी है.

दोस्तों उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छे से समझ में आ गई होगी. अगर इससे अलग आपका कोई डाउट हो या फिर अगर आप कोई बात हमसे मालूम करना चाहते हो तो नीचे आपको कमेंट बॉक्स मिल जाएगा उसमें आप अपनी कमेंट टाइप करके हमसे कुछ भी मालूम कर सकते हैं. फिलहाल अगर यह आर्टिकल हमारा आपको पसंद आया हो और अगर आप इसी प्रकार के आर्टिकल अपने मोबाइल पर सबसे पहले पाना चाहते हो तो इस आर्टिकल को लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर करिए और साइड में दिखाई देने वाली बैल आइकन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कीजिए. धन्यवाद…

LEAVE A REPLY

Please enter your name here
Please enter your comment!