#1. Hyacinth Macaw:

गहरे नीले रंग के दिखने वाले इस पक्षी का नाम हाइसिंथ मकाउ है। हाइसिंथ मकाउ की लम्बाई 100 सेंटीमीटर तक होती है और यह तोते के प्रजाति वाला पक्षी है जो उत्तरी ब्राजील में पाया जाता है। इनकी आबादी दुनिया में 5 हजार के आसपास है। इनकी खासियत यह है की ये यह दिखने में जितने खूबसूरत होते हैं उतनी ही मीठी इनकी ध्वनी भी होती है। हाइसिंथ मकाउ ‘ब्लू मकाव’ के नाम से भी पहचाना जाता है।

#2. Wood Duck:

Wood Duck पक्षी उत्तरी अमेरिका के दलदली इलाकों में पाया जाता है। यह पक्षी दुनिया के सबसे खूबसूरत पक्षियों में से एक है इस पक्षी को देखकर यह लगता है मानो किसी पेंटर ने शानदर पेंटिंग बनायीं हो। लकड़ बत्तख यानी Wood Duck अपनी खूबसूरती से किसी को भी अपना दीवाना बना सकता है। वुड डक पानी के अलावा पेड़ों में सुरंग करके भी रह सकता है। वुड डक नामक यह पक्षी बतख प्रजाति का होता है।

#3.Atlantic Puffin:

अटलांटिक पफिन नामक यह पक्षी उत्तरी अमेरिका और पूर्वी कनाडा के समुद्री तट पर पाया जाता है। इसके हाव-भाव और रहन-सहन के तरीके के कारण इसे समुद्री तोता भी कहा जाता है। इनमे उड़ने के साथ-साथ पानी में छलांग लगाने की क्षमता भी कमाल की होती है। यह पानी में 60 मीटर की गहराई तक पहुँच सकते हैं और अपने पंखों को 1 घंटे में 400 बार फेला कर 55 माइल प्रति घंटे की तेजी से उड़ सकतें हैं।

#4.  Bohemian Waxwing:

मध्यम आकार के इस खूबसूरत पक्षी को ‘बोहेमियन वैक्सिंग’ के नाम से जाना जाता है जो की ज़्यादातर उत्तरी अमेरिका, कनाडा, अलास्का और यूरेशिया के जंगलों में पाए जाते हैं। इसकी चोंच का आकार छोटा, काले रंग का होता है और सर पर एक कलगी होती है। इस प्रजाति के पक्षी की आवाज़ बहुत मधुर होती है जिस वजह से इसे ‘सोंग बर्ड’ भी कहा जाता है।

#5. Peacock:

इस पक्षी का नाम पीकॉक है, जिसे भारत में मोर के नाम से भी जाना जाता है। मोर की खासियत यह है की इसके पंख बहुत लम्बे, घने और बहुरंगी होते हैं। भारतीय पक्षियों में मोर की प्रजाति बहुत मशहूर है और ये भारत देश का राष्ट्रिय पक्षी भी कहलाता है। सावन का मौसम आते ही मोर पहाड़ी, जंगली या बाग़ बगीचे वाले इलाकों में आसानी से देखने को मिल जाता है। कहा जाता है की मोर सावन की बारिश में नृत्य करने बाहर आता है और अपने पूरे पंख फैला कर नृत्य करता है।

#6. Flamingo:

फ्लेमिंगो पक्षी दुनिया के कई देशों में पाया जाता है। Flamingo को समुद्री इलाके बेहद पसंद होते हैं और इसी वजह से ये ज़्यादातर समुद्री स्थान के पास पाया जाता है। नारंगी और सफ़ेद रंग का यह पक्षी दिखने में बेहद आकर्षित और सुन्दर होता है।अपनी लम्बी चोंच से मछली और समुद्री कीड़ों को पकड़ कर यह उनका सेवन करता है।

#7. Scarlet Macaw:

यह तोते के प्रजाति वाला पक्षी है जो खूबसूरत और बहुरंगी होता है। इसको कई लोग अपने घरो में पालते भी हैं।  भारत में हम इसको तोता ही कहते हैं। स्कार्लेट मकाव की उड़ने की क्षमता भी कमाल की होती है और यह अपने पंखों को लगातार तेजी से फैला कर 35 माइल प्रतिघंटे की रफ़्तार से उड़ सकता है। स्कार्लेट मकाव की लम्बाई 80 से 90 सेंटीमीटर तक होती है और इसका वजन 1.5 किलोग्राम से 2 किलोग्राम (लगभग) होता है।

#8. Golden Pheasant:

दुनिया के सबसे खूबसूरत पक्षियों की सूचि में गोल्डन फेज़ेंट पहले स्थान पर है। इसकी खूबसूरती और रंग-बिरंगी छवि ही इसे पहले स्थान के योग्य बनाती है। सुनहरे और लाल रंग के कारण इसे गोल्डन फेज़ेंट नाम दिया गया है और इसकी लम्बाई 42 इंच के आस-पास होती है। यह पक्षी दुनिया के कई देशों में पाया जाता है, इसकी आबादी सबसे ज्यादा पहाड़ी और जंगली इलाकों में पाई जाती है।

#9.  Blue Jay:

ब्लू जय दुनिया के सबसे बुद्धिमान और सुंदर पक्षियों में से एक है और यह पूर्वी और मध्य उत्तर अमेरिका के जंगलों में पाए जाते हैं। इस पक्षी की खासियत यह है की यह अपनी चोंच से जय-जय की ध्वनी निकालते हैं और साथ ही यह अनेक पक्षियों की आवाज़ की भी नक़ल कर सकते हैं। ऐसा भी कहा जाता है की ब्लू जय अनेक पक्षियों के अलावा इंसानी आवाज की भी नकल करने में सक्षम होते हैं। नीलें रंग के दिखने और जय-जय की ध्वनी निकालने के कारण इस पक्षी का नाम ‘ब्लू जय’ रखा गया है।

#10. Parrot:

तोता एक सुंदर, शांत और चंचल पक्षी है। इसकी सुंदरता से आकर्षित होकर सभी तोता को अपने घर में पालना और प्यार करना चाहता है। वास्तव में तोता एक प्यारा पक्षी है। यह एक मध्यम आकार का पक्षी है। जो दुनिया के लगभग सभी देशों में पाया जाता है। तोता अलग-अलग देशों में अलग-अलग रंगों में पाया जाता है, अर्थात तोता अनेक रंगों में पाए जाते हैं। तोता को अन्य पक्षियों से भिन्न उनकी चोंच बनाती है, क्योंकि तोता का चोंच लाल होता है। इतना ही नहीं बल्कि तोता (Parrot in Hindi) की प्रजातियां दुनिया भर में पाई जाती है। जो विश्व के अलग-अलग देशों में पाए जाते हैं। भारत में तोता का रंग हरा होता है। इतना ही नहीं बल्कि तोता के गले के चारों तरफ काले रंग की रिंग होती है, जिसे ‘कंठी’ कहा जाता है। सबसे महत्वपूर्ण बात तो यह है कि, तोता की आंखें काली और काफी चमकदार होती है। जिसके चारों ओर भूरे रंग की बनी हुई वलय रहती है। आमतौर पर यह पक्षी झुंड में रहना पसंद करती हैं। तोता का औसत आयु काल ’15-20′ वर्षों का होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your name here
Please enter your comment!